hoshangabad

भारत सदियों तक मुस्लिम आक्रांताओं, पुर्तगालियों एवं अंग्रेजों का गुलाम रहा है। लेकिन आज़ादी के इतने सालों के बाद भी भारत में कई ऐसे शहर हैं, जो आज भी गुलामी के प्रतीकों को संजो कर रखा है। इन्ही शहरों के बारे में आपको जानकारी दी जा रही है। इस भाग में हम आपको बताएँगे, उन शहरों के नाम जो मुस्लिम आक्रांताओं की गुलामी के प्रतीक हैं :-

अहमदनगर :-

ahmednagar

अहमदनगर महाराष्ट्र राज्य का एक नगर है। इस नगर की स्थापना 1494 में अहमद निज़ाम शाह प्रथम के द्वारा की गई एवं उसी के नाम पर इस शहर का नाम अहमदनगर रखा गया।

शाहजहांपुर :-

shahjahanpur

शाहजहांपुर भी उत्तर प्रदेश का एक शहर है। शाहजहांपुर की स्थापना शाह जहाँ के दो कमांडर दिलेर खान एवं बहादुर खान के द्वारा की गयी थी तथा शाह जहाँ के नाम पर इस शहर का नाम शाहजहांपुर रखा गया।

निज़ामाबाद :-

Nizamabad

निज़ामाबाद तेलंगाना राज्य का शहर है। इस हशहर का नाम हैदराबाद के निज़ाम के आधार पर रखा गया। आपको बता दें कि निज़ाम भारत के साथ नहीं बल्कि पाकिस्तान के साथ जाना चाहता थे।

मुर्शिदाबाद :-

murshidabad

मुर्शिदाबाद पश्चिम बंगाल का एक जिला है। 1704 में मुगल शासक औरंगज़ेब के दीवान मुर्शिद कुली खान ने इस शहर का नाम अपने नाम पर मुर्शिदाबाद रखा।

नजीबाबाद :-

nazibabadनजीबाबाद उत्तर प्रदेश के बिजनौर जिले का एक शहर है। नजीबाबाद का नाम वहां के नवाब नजीब-उद- दौला, जिसे नजीब खान भी कहा जाता है, के नाम पर पड़ा।

होशंगाबाद :-

hoshangabad

होशंगाबाद मध्य प्रदेश का एक जिला है, जिसे पहले नर्मदा पुरम कहा जाता था। इसे यहाँ के शासक  होशंग शाह के नाम पर होशंगाबाद कहा जाता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here